हिंदी ब्लू फिल्में दिखाओ

वेध भविष्याचा झी मराठी

वेध भविष्याचा झी मराठी, अगले दिन चेतन ने ऑफिस से छुट्टी कर ली और घर पर ही था। डॉली कॉलेज के लिए तैयार हुई तो चेतन ने बाइक निकाली और उसे कॉलेज छोड़ आया। फिर नीचे आ कर हमने वो ड्रेस पैक करवा लिए और फिर मैं कुछ और देखने लगी कि शायद कुछ और भी मुझे मेरे मतलब का मिल जाए.. जो कि एक बहन को अपने भाई की सामने खुला और नंगा करने में.. मेरे खेल में मेरी मददगार हो।

अम्मी हँस दी और बोली- मुझे पता है बेटा कि आप लोग जवान हो और किसी को खातिर में नहीं लाओगे। लेकिन फिर भी एहतियात अच्छी होती है, और अब इन बातों को छोड़ो और ये बताओ कि कल का क्या प्रोग्राम है? कहाँ जाना है? फिर मैं धीरे से फरी बाजी के पास बेड पे बैठ गया और अपना एक हाथ अपनी बड़ी बहन की चूचियों पे रखकर हल्का सा दबा दिया। जैसे ही बाजी की चूचियों पे मैंने अपना हाथ रखा तो मुझे एहसास हुआ कि बाजी ने ब्रा नहीं पहन रखी है।

मुझे खुशी इस बात की थी कि अगर वो कल रात जाग रही थी और उसे अपने भाई के हाथों से खुद के जिस्म को छूने का पता चला था.. तो उसके बावजूद भी उसने अपने भाई के साथ लेटना क़बूल कर लिया था। शायद उसे भी इस खेल में कुछ मज़ा आने लगा था। वेध भविष्याचा झी मराठी डॉली के जिस्म से चिपकी हुई उसकी चमड़ी के रंग की लेग्गी ऐसी ही लग रही थी.. जैसे कि उसकी चमड़ी ही हो। चेतन ने अपना हाथ आहिस्ता आहिस्ता डॉली की जाँघों पर फिराना शुरू कर दिया और उसकी जाँघों को सहलाने लगा।

देवर भाभी पिक्चर

  1. एक रोज़ मैं और डॉली दोनों घर पर अकेले थे। चेतन के जाने के बाद जब हम काम से फारिग हुए.. तो मेरे दिमाग में एक ख्याल आया। मैंने अपनी एक ब्लैक कलर की लेगिंग निकाली और डॉली को अपने कमरे में बुलाया।
  2. मैं: चल मेरा अब होने वाला है... जल्दी सो जा... मैं अब तुज पे चढूंगा... तेरी चूत में ही माल निकालूँगा अपना... चल चल जल्दी सो जा... अंग्रेजों की सेक्सी फिल्म दिखाएं
  3. मैंने फ़ौरन ही अपनी आँखें बंद कर लीं। चंद लम्हों के बाद मैंने देखा तो वो उठ कर बिस्तर के हमारे पैरों वाली साइड पर चला गया हुआ था और नीचे झुक कर आहिस्ता आहिस्ता अपनी बहन के गोरे-गोरे पैरों को चूमने लगा था। मैं: देखो आप तो सीधा लेट भी नहीं पाते तो उस समय आपको बहुत पीड़ा होगी और मैं इस हालत में आपको प्यार नहीं कर सकता| आपको तड़पता देख के मैं टूट जाऊँगा, बस केवल दो दिन और फिर आपके जख्म भर जायेंगे और मैं आपकी साड़ी इच्छा पूरी कर दूँगा|
  4. वेध भविष्याचा झी मराठी...मैं: (भौजी के चेहरे पे आई बारिश की बूंदों को उँगलियों से हटते हुए) जान.. आप भूल रहे हो की छतरी नाम की एक चीज होती है जो भीगने से बचाती है! मैं- नहीं फरी जी, ये मेरा दिल चाहता है कि मैं अपनी बहन को पूरा मजा उठाने दें, और जो वो चाहे उसमें उसकी मदद करूं और उसके साथ खुद भी मजा करूँ। बाकी अब देखना है कि बाजी क्या सोचती हैं?
  5. मैंने कहा- यार ये टेन्शन तुम्हारी नहीं है मेरी जानू, ये मेरा काम है, और तुम्हारा काम बस मजा लेना और मजा देना है... मैं: बेटा ऐसा नहीं कहते| देखो नानू आपका इन्तेजार कर रहे हैं, उनके पास बहुत अच्छी-अच्छी मिठाइयां है, खिलोने हैं ... (मैं अपनी तरफ से नेहा को हर प्रलोभन दे रहा था की वो मान जाए पर ना|)

सेक्सी हिंदी पिक्चर नंगी

लेकिन जैसे ही मैं उसे अपने बहन को देखता हुआ पकड़ती.. तो वो शरम से थोड़ा झेंप जाता.. लेकिन मैं उसे शर्मिंदा करने की बजाय मुस्कुरा देती।

केविन: नहीं मेरी जान, अगले लेवल के सेक्स के लिए तैयार हो जा... आज दोनों लण्ड तेरी गांड में एकसाथ घुसेंगे... और चूत में भी... हम दोनों.... काका ने मंगलसूत्र एक पतले लम्बे से लाल रंग के केस (Case) में पैक कर के दिया था| मैंने एक बार उसे खोला और चेक किया की चीज़ तो वही है ना|

वेध भविष्याचा झी मराठी,बड़ी मुश्किल से मेरी ज़ुबान डॉली की चूत के अन्दर दाखिल हो रही थी। मैंने आहिस्ता आहिस्ता अपनी ज़ुबान को डॉली की चूत के अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया।

उन्होंने मेरे पिताजी से कहा और इससे पहले की वो कुछ कहते मैंने पिताजी को रोक दिया और उनकी बात का जवाब दिया|

अनिल: वो कभी नहीं मानेंगे! सुमन की जात, उसके non-vegetarian होने से, traditional कपडे ना पहनने से ...और भी नजाने कितनी गलतियां निकाल देंगे|ब्लू फिल्म सेक्सी बिहार

भौजी: वो स्वस्थ ही होगी... और आप बेकार की चिंता करते हो! ऐसे बीमारियां एक दूसरे में नहीं फैलतीं...कभी देखा की बच्चे की वजह से माँ बीमार पड़ीं हो... कितनी पत्नियां होती हैं जो अपने पति के बीमार होने पे उनकी सेवा करती हैं| वो तो बीमार नहीं होती| तो मैं कैसे बीमार हूँगी| अब आप बहस मत करो और सो जाओ| मैं हैरान हो गया की अचानक से ये इतने प्यार से कैसे बात कर रही है| इतनी जल्दी इसका हृदय परिवर्तन कैसे हो गया| कुछ तो गड़बड़ है!

मैंने बाजी की तरफ देखा तो देखता ही रहा गया। क्योंकी बाजी ने ऐसे कपड़े घर में कभी नहीं पहने थे मेरे सामने। मैने बोला- वो बाजी, अम्मी तो मार्केट चली गई हैं और मुझे भूख लग रही थी। इसलिए आपको बुलाने गया था कि आप मुझे नाश्ता बना दें...

भौजी: Delicious !!! इसके आगे तो Resturant का खाना फीका है| अगर पहले पता होता तो....मैं आपसे ही खाना बनवाती!,वेध भविष्याचा झी मराठी आप लोगो से एक निवेदन है... बदचलन होना और किसी सिंड्रोम का शिकार होना दो अलग बात है... लड़की की सेक्स की भूख को समजे... उससे रुसवा करके आप अपने पैरो पे कुल्हाड़ी मत मारना..... ये एक बीमारी है जिसका मैंने दो तिन देशो में जाकर चेक करवाया है... और ये मुश्किल से दीखता है...

News